MATSYA6000: गहरे समुद्र में खनन और अन्वेषण के लिए भारत की उन्नत मानवयुक्त पनडुब्बी

MATSYA6000 सबमर्सिबल: देश ने MATSYA6000 नामक एक मानवयुक्त वैज्ञानिक सबमर्सिबल विकसित किया है।

क्षमता और गहराई: MATSYA6000 तीन मनुष्यों को 12 घंटे तक ले जाने में सक्षम है और समुद्र में 60,000 मीटर तक की गहराई पर काम कर सकता है।

अनुप्रयोग: सबमर्सिबल को गहरे समुद्र में खनन और मानवयुक्त सबमर्सिबल संचालन जैसी गतिविधियों के लिए डिज़ाइन किया गया है।

एकीकृत खनन मशीन: समुद्र तल पर पाए जाने वाले पॉली-मेटालिक नोड्यूल्स के खोजपूर्ण खनन के लिए एक एकीकृत खनन मशीन बनाई गई है।

लोकोमोशन परीक्षण: एकीकृत खनन मशीन का सफल लोकोमोशन परीक्षण मध्य भारत महासागर में हुआ।

डीप ओशन मिशन: केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्री किरेन रिजिजू ने उल्लेख किया कि डीप ओशन मिशन ने गहरे समुद्र में खनन विकास में महत्वपूर्ण तकनीकी प्रगति की है।

प्रश्न: देश द्वारा विकसित MATSYA6000 सबमर्सिबल का प्राथमिक उद्देश्य क्या है?

a) पानी के नीचे की फोटोग्राफी
b) गहरे समुद्र में पर्यटन
c) गहरे समुद्र में खनन और अन्वेषण
d) समुद्री जीवन अवलोकन

उत्तर: c) गहरे समुद्र में खनन और अन्वेषण

Scroll to Top