स्वदेशी लड़ाकू विमान LCA तेजस Mk1A ने बेंगलुरु में HAL सुविधा से पहली उड़ान पूरी की

28 मार्च, 2024 को लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) तेजस Mk1A ने बेंगलुरु में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) सुविधा से अपनी पहली उड़ान भरी।

  1. पंजीकरण संख्या LA5033 के साथ तेजस Mk1A श्रृंखला के पहले विमान ने मुख्य परीक्षण पायलट ग्रुप कैप्टन केके वेणुगोपाल (सेवानिवृत्त) द्वारा संचालित उड़ान 18 मिनट तक पूरी की।
  2. यह उपलब्धि भारत के स्वदेशी एयरोस्पेस और रक्षा उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है, जो वैश्विक आपूर्ति श्रृंखला चुनौतियों के बावजूद समवर्ती डिजाइन और विकास की क्षमता को प्रदर्शित करती है।
  3. तेजस एमके1ए के अनुबंध पर फरवरी 2021 में हस्ताक्षर किए गए, जो उन्नत स्वदेशी लड़ाकू विमान के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।
  4. तेजस एमके1ए में उन्नत इलेक्ट्रॉनिक रडार, उन्नत लड़ाकू क्षमताएं, बेहतर रखरखाव सुविधाएं और मजबूत संचार प्रणाली शामिल हैं।
  5. भारतीय वायु सेना (IAF) मांग को पूरा करने के लिए HAL में उत्पादन लाइनें स्थापित करने के साथ, तेजस Mk1A को जल्द शामिल करने की उम्मीद कर सकती है।
  6. प्रौद्योगिकी हस्तांतरण (टीओटी) समझौते के माध्यम से सीएसआईआर-राष्ट्रीय एयरोस्पेस प्रयोगशालाओं (सीएसआईआर-एनएएल) के साथ एचएएल के सहयोग का उद्देश्य तेजस एमके1ए के लिए बीएमआई इंजन बे डोर का निर्माण करना है।
  7. तेजस एमके1ए को स्वदेशी 4.5-पीढ़ी, हर मौसम के लिए उपयुक्त और बहु-भूमिका वाले लड़ाकू विमान के रूप में वर्णित किया गया है, जो भारत की रक्षा क्षमताओं को मजबूत करने के लिए तैयार है।

प्रश्न: तेजस एमके1ए की हालिया पहली उड़ान का क्या महत्व है?

A) यह स्वदेशी लड़ाकू विमान की पहली उड़ान थी।
B) इसने ऊंचाई का विश्व रिकॉर्ड हासिल किया।
C) इसने सुपरसोनिक यात्रा की व्यवहार्यता का प्रदर्शन किया।
D) इसने एक नई स्टील्थ तकनीक का प्रदर्शन किया।

उत्तर: A) यह स्वदेशी लड़ाकू विमान की पहली उड़ान थी।

Scroll to Top