यूनिफ़ाइड पेमेंट इंटरफ़ेस (UPI) का उपयोग करके कैश डिपॉजिट मशीनों के माध्यम से नकद जमा करें

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) जल्द ही यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (UPI) का उपयोग करके कैश डिपॉजिट मशीनों के माध्यम से नकद जमा करने में सक्षम करेगा।

यूपीआई, जिसका उपयोग पहले मुख्य रूप से धन निकासी या हस्तांतरण के लिए किया जाता था, अब नकद जमा की सुविधा प्रदान करेगा, जिससे ग्राहकों की सुविधा बढ़ेगी और बैंकों में मुद्रा प्रबंधन में दक्षता बढ़ेगी।

आरबीआई प्रीपेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट्स (पीपीआई) वॉलेट से यूपीआई भुगतान करने के लिए तीसरे पक्ष के यूपीआई ऐप्स के उपयोग की अनुमति देने का प्रस्ताव कर रहा है, जिससे छोटे मूल्य के लेनदेन के लिए डिजिटल भुगतान को बढ़ावा मिलेगा।

प्रश्न: भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) का उपयोग करके कैश डिपॉजिट मशीनों (सीडीएम) के माध्यम से कौन सी नई कार्यक्षमता सक्षम करेगा?

a) धन निकासी
b) धन हस्तांतरण
c) नकद जमा
d) मुद्रा विनिमय

उत्तर: c) नकद जमा

Scroll to Top